Tap to Read ➤

सच्ची दोस्ती शायरी दो लाइन

Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
कर्ज़ दोस्ती में चुकाने नहीं होते
एहसान दोस्ती में जताने नहीं होते
बस सलामत रहे ये याराना हमारा!
क्यूंकि ये रिश्ते कभी पुराने नहीं होते
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
तू रूठा रूठा सा लगता है
कोई तरकीब बता मनाने की
मैं ज़िन्दगी गिरवी रख दूंगा
तू क़ीमत बता मुस्कुराने की

दोस्ती

Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
कोई दोस्त कभी पुराना नहीं होता,
कुछ दिन बात न‌ करने से बेगाना नहीं होता,
दोस्ती में दुरी तो आती रहती है,
पर दुरी का मतलब भुलाना नहीं होता!
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017

दोस्ती कभी स्पेशल लोगो से नहीं होती,
जिनसे दोस्ती होती है, वो लोग ही स्पेशल हो जाते हैै

Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017

फर्क तो अपनी अपनी सोच में होती है जनाब,
वरना दोस्ती भी मोहब्बत से कम नहीं होती

Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
हज़ारो दोस्त आये और हज़ारों दोस्त गए लेकिन,
वो स्कूल वाले दोस्त आज भी याद आते है
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017
मैं भूला नहीं हूँ किसी को मेरे बहुत अच्छे दोस्त हैं ज़माने में,
बस थोड़ी ज़िन्दगी उलझी हुई है दो वक़्त की रोटी कमाने में
Created by potrace 1.15, written by Peter Selinger 2001-2017

बच्चे वसीयत पूछते है, रिश्ते हैशियत पूछते है,
वो दोस्त ही है जो… मेरी खैरियत पूछते है